Mumbai

By Ajaz Khan
Share on FacebookTweetShare on Whatsapp

2021-05-26

महाराष्ट्र में 1 जून के बाद शरू हो सकता है अनलॉक प्रक्रिया

पिछले कई दिनों से महाराष्ट्र में कोरोना के नए केसों में कमी आई है, और रिकवरी रेटभी 94 प्रतिशत तक जा पहुंचा है, ऐसे में राज्य के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और महा विकास अघाड़ी सरकार अब मौजूदा प्रतिबंधों को कम करने पर विचार कर रही है। सूत्रों की माने तो महाराष्ट्र में चरणबद्ध तरीके से प्रतिबंधों को हटाने पर चर्चा चल रही है। अगर सब प्लान के मुताबिक हुआ तो 1 जून से महाराष्ट्र में अनलॉक प्रक्रिया शुरू हो सकती है। हालांकि पिछली बार से सबक लेते हुए सरकार फूंक-फूंककर कदम रख रही है। ऐसे में अनलॉक को लेकर तस्वीर पूरी तरह साफ नहीं है। फिर भी अनलॉक के पक्ष में कई ऐसी बातें हैं जो इसे जल्द ही साकार कर सकती हैं-

1- कोरोना केस घटे, रिकवरी रेट 94 फीसदी तक जा पहुंचा है,

2 मुंबई में भी पिछले कई दिनों से नए केस डेढ़ हजार के भी कम आ रहे हैं। रिकवरी रेट भी 94 फीसदी हो गई है। ऐसे में माना जा रहा है कि मुंबई से कोरोना संकट के बादल छंट गए हैं। इससे लोगों की उम्मीद बढ़ गई है कि संभवत: राज्य सरकार 1 जून के बाद लॉकडाउन हटाने से संबंधित कोई फैसला ले सकती है।

सूत्रों के मुताबिक, महाराष्ट्र में चार चरणों में अनलॉक प्रकिया का फैसला लिया जा सकता है।

1 पहले और दूसरे चरण में दुकानों पर निर्णय लिया जा सकता है।

मॉनसून के चलते सरकार इसे लेकर गंभीर है। माना जा रहा है कि मेंटिनेंस और मॉनसून से संबंधित दुकानों को खोलने की अनुमति दी जा सकती है।यह भी कहा जा रहा है कि महाराष्ट्र में इन दुकानों के खुलने के समय को भी बढ़ाया जा सकता है। वर्तमान में कई दुकानों को सोमवार से शुक्रवार सुबह 7 बजे से 11 बजे के बीच ही खोलने की अनुमति है। अब ऐसी खबर है कि दुकानों का समय बढ़ाकर सुबह 9 बजे से शाम 5 बजे तक किया जा सकता है। दुकानों के अनलॉक के साथ एसओपी भी तैयार किए जाएंगे ताकि संक्रमण का प्रसार फिर से न हो।

2 तीसरे चरण में बार-रेस्तरां खोलने की तैयारी

तीसरे चरण में सरकार रेस्तरां, बार और वाइन शॉप को खोलने की इजाजत दे सकती है। उनके लिए एक एसओपी भी होगा और साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग को लागू करने के उपाय भी होंगे। रेस्तरां कितनी क्षमता तक खोले जा सकते हैं इस पर भी फैसला लिया जाएगा। राज्य में बीते कुछ दिनों से दुकानें बंद होने की वजह से व्यापारियों को काफी ज्यादा नुकसान उठाना पड़ा है। उम्मीद जताई जा रही है कि अगले महीने सरकार दुकानों को खोलने फैसला ले सकती है।

3- चौथे चरण में खुल सकता है लोकल और धार्मिक स्थल!

अगर सबकुछ ठीक रहीं तो बाकी बचे हुए प्रतिबंधों को चौथे चरण में हटाया जा सकता है। चौथे चरण में सरकार लोकल सेवा और धार्मिक स्थलों को खोलने की भी मंजूरी दे सकती है। इसके अलावा जिन जिलों में लॉकडाउन या कड़े प्रतिबंध लगाए गए हैं, वहां पर हालात को देखकर फैसला लिया जाएगा।

पिछली बार की गलती से सबक लिया - मुख्यमंत्री

हालांकि राज्य कर मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने पिछले दिनों साफ कहा था कि वह अनलॉक पर फैसला लेने से पहले 10 बार सोचेंगे। दरअसल पिछली बार कोरोना नियंत्रण में आने के बाद महाराष्ट्र में अनलॉक की प्रक्रिया तेज हो गई थी। इसके चलते दूसरी लहर में पहले से भी ज्यादा तेजी से संक्रमण हुआ। मुख्यमंत्री ने पिछले दिनों रत्नागिरी दौरे पर कहा था, 'कोराना में कमी आ रही है लेकिन इस संबंध में मैं कुछ बोलूंगा नहीं। पहली लहर से हमने सबक लिया है।'

© All Rights Reserved 2021 | Mumbai Breaking News Live